IAS in hindi


यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन ( UPSC) द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा (CSE) के तहत 24 विभिन्न सिविल सेवाओं के लिए upsc के पद भरे जाते हैं। इस परीक्षा को लाखों परीक्षार्थी देते हैं परंतु कुछ भाग्यशाली उम्मीदवार ही इस परीक्षा को पास कर पाते हैं। इसमें 23 अलग-अलग सिविल सेवा के पद हैं, जिनमें से सबसे लोकप्रिय पद भारतीय प्रशासनिक सेवाएं (IAS), भारतीय पुलिस सेवा (IPS), भारतीय राजस्व सेवाएं (IRS) और भारतीय विदेश सेवाएं (IFS) हैं। इस परीक्षा में सफल उम्मीदवारों को POST का आवंटन परीक्षा में प्राप्त अंकों पर निर्भर करता है। यदि इस सेवा में कोई उम्मीदवार चयनित हो जाता है तो उसे एक से अधिक पदों पर चयन किया जाता है, इसके अलावा कुछ अन्य मामलों में जहां पर वह किसी दूसरे विभाग को चयनित करता हो।

IAS in hindi

IAS in hindi

यूपीएससी सेवा के प्रकार - Type of UPSC

सिविल सेवा में मुक्ता तीन प्रकार के पद होते हैं।

1. INDIAN ADMINISTRATIVE SERVICE
2. GROUP 'A' SERVICE
3. GROUP 'B' SERVICE


1. All india civil service - अखिल भारतीय प्रशासनिक सेवा
       - INDIAN ADMINISTRATIVE SERVICE - IAS
       - INDIAN POLICE SERVICE - IPS
       - INDIAN FOREST SERVICE - IFoS


2. GROUP A SERVICE - समूह A सिविल सर्विस

  • ‌Indian Foreign Service (IFS) - भारतीय विदेश सेवा
  • ‌Indian Audit and Accounts Service (IAAS) - भारतीय ऑडिट एंड अकाउंट्स सेवा
  • ‌Indian Civil Accounts Service (ICAS) -भारतीय सिविल अकाउंट सेवा
  • ‌Indian Corporate Law Service (ICLS) - भारतीय कॉरपोरेट लॉ सेवा
  • ‌Indian Defence Accounts Service (IDAS) - भारतीय डिफेंस अकाउंट सेवा
  • ‌Indian Defence Estates Service (IDES) - भारतीय डिफेंस इस्टेट सेवा
  • ‌Indian Information Service (IIS) - भारतीय सूचना सेवा
  • ‌Indian Ordnance Factories Service (IOFS) - भारतीय ऑर्डनेंस फैक्ट्री सेवा
  • ‌Indian Communication Finance Services - भारतीय कम्युनिकेशन फाइनेंस सेवा (ICFS)
  • ‌Indian Postal Service (IPoS) - भारतीय डाक सेवा
  • ‌Indian Railway Accounts Service (IRAS) - भारतीय रेलवे अकाउंट सेवा
  • ‌Indian Railway Personnel Service (IRPS) - भारतीय रेलवे पर्सनल सेवा
  • ‌Indian Railway Traffic Service (IRTS) - भारतीय रेलवे ट्रैफिक सर्विस
  • ‌Indian Revenue Service (IRS) - भारतीय वित्त सेवा
  • ‌Indian Trade Service (ITS) - भारतीय ट्रेड सेवा
  • ‌Railway Protection Force (RPF) - भारतीय प्रोटेक्शन फॉर सेवा

GROUP 'B' SERVICE - समूह 'B' सिविल सर्विस

  • ‌सशस्त्र सेना मुख्यालय सिविल सेवा
  • ‌दानिक्स
  • दनिप्स
  • ‌पांडिचेरी सिविल सेवा - Pondicherry civil service
  • ‌पांडिचेरी पुलिस सेवा - Pondicherry police service

IAS in hindi - Indian administrative service

  • IAS की जॉब को करने का हर किसी युवा का सपना होता है। यह एक ऐसी जॉब होती है, जो भारत की सर्वोच्च प्रशासनिक सेवा को देखती है जो भी UPSC के द्वारा टॉप रैंकर्स होते हैं, उनको या रैंक दी जाती है।
  •  IAS  भारत सरकार और राज्य सरकार की प्रमुख प्रशासनिक सर्विस है।
  •  IAS के पास ही भारत की नीतियों को बनाने तथा उसे लागू करने की जिम्मेदारी होती है।
  •  IAS की ट्रेनिंग LBSNAA उत्तराखंड में होती है। यहां पर ही देश के उच्च प्रशासनिक सेवा पर नियुक्त होने वाले ऑफिसर्स को ट्रेन किया जाता है।

IPS in hindi - Indian police service ( भारतीय पुलिस सेवा )

  •  IPS तीनों भारतीय अखिल सेवा में से एक है यह भी बहुत ही महत्वपूर्ण पद है।

  •   IPS का सिलेक्शन भी यूपीएससी के माध्यम से किया जाता है तथा यह पुलिस विभाग की सबसे उच्च पद होता है।

  • IPS जॉब पाने का हर एक भारतीय युवा का सपना होता है। लेकिन आईपीएस में बहुत सी फिजिकल बॉउंडेशन होते हैं। लेकिन इसके विपरीत आईएस में किसी भी प्रकार का फिजिकल फाउंडेशन नहीं होता है।

  • IPS अधिकारियों को हैदराबाद के सरदार वल्लभभाई पटेल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट भारतीय पुलिस अकादमी में ट्रेन किया जाता है।

  • आईपीएस अधिकारियों का चयन भारत की प्रमुख एजेंसियां जैसे कि ROW, CBI आदि के वरिष्ठ पद पर किया जाता है।

INDIAN FOREST SERVICE - भारतीय वन सेवा

  • यह तीनों भारतीय अखिल सेवा में से एक सर्विस है।
  •  इसका चयन भी यूपीएससी के रैंक के अनुसार किया जाता है।
  • यदि कोई अधिकारी केंद्र सरकार का अधिकारी है तो उसे वन महानिदेशक ( DG ) के पद पर नियुक्त किया जाता है।
  • यदि कोई IFoS राज्य सरकार के अधीन नियुक्त होता है, तो उसको प्रधान मुख्य वन संरक्षक के पद पर नियुक्त किया जाता हैं।
  • भारतीय वन सेवा पर्यावरण वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के अंतर्गत आता है।
  • भारतीय वन सेवा के अधिकारियों को FAO food and agriculture organization  के अंतर्गत काम करने का अवसर मिलता है।

IFS - Indian foreign service ( भारतीय विदेश सेवा )

  • भारतीय वन सेवा का चयन यूपीएससी के माध्यम से किया जाता है।

  • यह भारत की उच्च विदेश सेवा है।

  • IFS के अधिकारी विदेशों में भारत के मुख्य मुद्दों को देखते हैं।

  • IFS के अधिकारी उच्चायुक्त, राजदूत व संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थाई प्रतिनिधि बन सकते हैं।

  • आईएफएससी अधिकारियों का प्रशिक्षण LBSNAA उत्तराखंड में होता है।

IA & AS - Indian audit and account service ( भारतीय ऑडिट और अकाउंट सेवा

  • यदि देखा जाए तो यह ग्रुप ए में सबसे पसंदीदा पद है जिसे हर युवा का पाने का सपना होता है।
  • भारतीय ऑडिट और अकाउंट सेवा का प्रशिक्षण शिमला के NAAA प्रशिक्षण केंद्र में होता है।
  • भारतीय ऑडिट और अकाउंट सेवा में चयनित अभ्यर्थी भारत के CAG के अधीन काम करता है।
  • भारतीय ऑडिट और अकाउंट सेवा के अधिकारी भारत सरकार व राज्य सरकार तथा PSU के अकाउंट को देखते हैं।

ICAS - INDIAN CIVIL ACCOUNT SERVICE ( भारतीय सिविल लेखा सेवा )

  • इंडियन सिविल अकाउंट सर्विस समूह A के पद के अनुसार आते हैं।
  • इंडियन सिविल अकाउंट सर्विस के अधिकारी भारत के वित्त मंत्रालय के अंतर्गत काम करते हैं।
  • इस समूह को पूर्ण रूप से कंट्रोल कंट्रोलर जनरल आफ अकाउंट्स होता है।
  • इंडिया सिविल अकाउंट सर्विस के अधिकारियों का प्रशिक्षण फरीदाबाद के राष्ट्रीय वित्त प्रबंधन संस्थान ( NIFM ) तथा सरकारी लेखा और वित्त संस्थान ( INGAF ) में होता है।

ICLS - भारतीय कॉरपोरेट विधि सेवा 

  • यह भारत की ग्रुप A से सर्विस है यह कॉर्पोरेट मंत्रालय के अंतर्गत काम करती है।
  • भारतीय कॉर्पोरेट विधि सेवा के अधिकारियों का मुख्य उद्देश्य होता है कि भारत के कॉर्पोरेट जगत को नियंत्रित रखा जाए।
  • इसके अधिकारियों का प्रशिक्षण भारत के मानेसर में स्थित आईसीएलएस अकैडमी में होता है।
  • भारतीय कारपोरेट विधि सेवा के अधिकारियों को वित्तीय, लेखा, अर्थशास्त्र, कानून व कारपोरेट से संबंधित प्रशिक्षण दिया जाता है।

IDAS - Indian defence account service

  • इंडियन डिफेंस अकाउंट्स सर्विस के अधिकारी भारत के रक्षा मंत्रालय के अंतर्गत कार्य करते हैं।
  • इससे संबंधित अधिकारियों को पहले दिल्ली में प्रशिक्षण दिया जाता है उसके बाद पुणे के NIFM राष्ट्रीय रक्षा वित्त प्रबंधन संस्थान में दिया जाता है।
  • इंडियन डिफेंस अकाउंट्स सर्विस के अधिकारी मुख्य रूप से सीमा सड़क संगठन और आयुध कारखानों में काम करते हैं।
  • इनका मुख्य काम होता है कि यह डिफेंस संबंधित सभी अकाउंट को मेंटेन करके रखें।

IIS - इंडियन इनफॉरमेशन सर्विस

  • यह भारत की समूह A की सर्विस है इसका मुख्य उद्देश्य भारत की मीडिया विंग्स को कंट्रोल करना होता है।
  • आई आई एस के अधिकारी भारत के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अंतर्गत काम करते हैं।
  • इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारियों का प्रशिक्षण भारतीय जनसंचार संस्थान ( iimc) में होता है।
  • इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारी डीडी, पीआईबी, एआईआर व अन्य सरकारी संस्थानों के अंतर्गत काम करते हैं।

IDES - भारतीय रक्षा संपदा सेवा

इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारियों का प्रशिक्षण भारतीय रक्षा संपदा से सेवा नई दिल्ली में होता है।

IOFS - इंडियन ऑडनेंस फैक्ट्री सर्विस ( भारतीय आयुध फैक्ट्री सेवा )

  • यह समूह A सेवा होती है तथा इसको भारत के तमाम ऑडनेंस फैक्ट्री में कार्यरत किया जाता है जहां पर तमाम तरह के गोला-बारूद और हथियार बनाए जाते हैं।
  • इसके अधिकारी रक्षा मंत्रालय के अंतर्गत काम करते हैं।
  • किस विभाग से संबंधित अधिकारियों का प्रशिक्षण 1 वर्ष 3 महीने का होता है तथा यह नागपुर के राष्ट्रीय रक्षा उत्पादन अकादमी में होता है।

ICFS - भारतीय संचार वित्त सेवा

  • यह समूह A सेवा के अंतर्गत आते हैं।
  • इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारियों का प्रशिक्षण फरीदाबाद के राष्ट्रीय वित्तीय प्रबंधन संस्थान में होता है।
  • इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारियों का मुख्य कार्य भारतीय डाक और दूरसंचार विभाग के लेखा-जोखा का हिसाब रखना होता है। 

IPoS - इंडियन पोस्ट सर्विस

  • यह ग्रुप A ही सर्विस होती है जो भारत के पोस्ट डिपार्टमेंट के अंतर्गत कार्य करता है।
  • इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारियों का प्रशिक्षण गाजियाबाद में स्थित रफी अहमद किदवई राष्ट्रीय डाक एकेडमी में होता है।
  • इससे संबंधित अधिकारी भारत के डाक विभाग में सबसे उत्तम अधिकारी होते हैं।
  • इससे संबंधित अधिकारियों का मुख्य काम डाक विभाग से संबंधित कार्य होता है तथा मौजूदा समय में वृद्धावस्था पेंशन तथा मनरेगा मजदूरी तथा बैंकिंग सेवाएं भी उपलब्ध कराती है।

IRAS - इंडियन रेलवे अकाउंट सर्विस 

  • यह ग्रुप ए के अंतर्गत आने वाली सेवा होती है
  • इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारी रेलवे के एकाउंट डिपार्टमेंट को देखते हैं।
  • इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारियों का प्रशिक्षण नागपुर के राष्ट्रीय प्रत्यक्ष कर अकादमी में 2 साल का होता है। इसके बाद वडोदरा के रेलवे स्टॉप कॉलेज में प्रशिक्षण दिया जाता है तथा उसके बाद रेलवे के अलग-अलग डिवीजन में इनको प्रशिक्षण दिया जाता है।

IRPS - इंडियन रेलवे पर्सनल सर्विस

  • यह रेलवे के पर्सनल डिपार्टमेंट के अंतर्गत काम करता है।
  • यह ग्रुप ए में आने वाली सेवा है।
  • इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारियों का प्रशिक्षण प्रथम चरण में LBSNAA में होता है इसके बाद नागपुर के राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी में होता है। इसके बाद RCVP नहरोहना प्रशासन अकादमी में होता है। और सबसे अंतिम में डॉक्टर मैरी चेन्ना रेड्डी मानव संसाधन विकास संस्थान में होता है।
  • और सबसे लास्ट में बड़ोदरा के रेलवे स्टाफ कॉलेज में होता है।
  • इस वर्ग के अधिकारियों का मुख्य काम रेलवे के अंतर्गत आने वाले मानव संसाधन का देखरेख करना होता है।

IRTS - इंडियन रेलवे ट्रैक ट्रांसपोर्टेशन सर्विस

  • इस वर्ग के अधिकारी समूह के अधिकारी होते हैं।
  • आईआरटीएस अधिकारियों का मुख्य काम भारत की ट्रेन व्यवस्था का संचालन सुचारू रूप से किया जाना होता है।
  • आईआरटीएस अधिकारियों का प्रशिक्षण वडोदरा के रेलवे स्टॉप कॉलेज में होता है तथा इसके बाद लखनऊ के भारतीय रेलवे परिवहन प्रबंधन संस्थान में होता है।

IRS - इंडियन रिवेन्यू सर्विस

  • IRS भारत के समूह A बहुत ही महत्वपूर्ण सेवा है इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारी जो भारत के रेवेन्यू डिपार्टमेंट को देखते हैं।
  • आईआरएस अधिकारी भारत के वित्त मंत्रालय के अंतर्गत काम करते हैं।
  • आईआरएस अधिकारी का प्रशिक्षण शुरुआती तौर पर LBSNAA में होता है इसके बाद नागपुर स्थित NADT में और इसके बाद फरीदाबाद स्थित राष्ट्रीय सीमा शुल्क, उत्पाद शुल्क और नारकोटिक्स अकादमी में होता है।
  • IRS के अंतर्गत आने वाले अधिकारियों का मुख्य कार्य डायरेक्ट टैक्स और इनडायरेक्ट टैक्स को वसूल करना होता है।

ITS - भारतीय व्यापार सेवा

  • आईटी एस के अंतर्गत आने वाले अधिकारी समूह ए के अधिकारी होते हैं।
  • इनका प्रशिक्षण दिल्ली में स्थित भारतीय व्यापार संस्थान में होता है।
  • इस विभाग का मुख्य उद्देश्य अंतर्राष्ट्रीय व्यापार तथा वाणिज्य प्रबंधन करना होता है।
  • विभागीय अधिकारी वाणिज्य मंत्रालय के अंतर्गत कार्य करते हैं।
  • इनका नेतृत्व विदेश व्यापार निदेशालय ( DGFT ) करता है।

RPF - रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स

  • यह रेलवे की सुरक्षा व्यवस्था को देखता है।
  • आरपीएफ के अधिकारी रेल मंत्रालय के अंतर्गत काम करते हैं।
  • आरपीएफ में आने वाले अधिकारी व कर्मचारी सभी अर्धसैनिक बल के अंतर्गत आते हैं।
  • इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारियों का प्रशिक्षण लखनऊ स्थित जगजीवन राम रेलवे सुरक्षा बल एकेडमी में प्राप्त करते हैं।

यूपीएससी के माध्यम से ग्रुप डी में आने वाले पदों का निम्न वर्णन किया गया है।

सशस्त्र सेना मुख्यालय सिविल सर्विस

  • यह ग्रुप बी के अंतर्गत आने वाली सिविल सेवा है
  • इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारी रक्षा मंत्रालय के अंतर्गत काम करते हैं।
  • इसके अंतर्गत नियुक्त हुए सचिव सबसे बड़े अधिकारी होते हैं।

दानिक्स 

  • यह ग्रुप बी के अंतर्गत आने वाली सिविल सेवा है।
  • इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारी भारत की प्रशासनिक सेवा फिडर के रूप में काम करती है।
  • इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारी मूल रूप से दिल्ली, अंडमान निकोबार दीप समूह में कार्य करते हैं।
  • इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारियों की मुख्य रूप से सहायक कलेक्टर के पद पर तैनाती होती है।
  • इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारी मुख्य रूप से केंद्र शासित प्रदेशों के लिए जिम्मेदार होते हैं।

DANIPS 

  • DANIPS का फुल फॉर्म होता है - दिल्ली, अंडमान निकोबार दीप समूह, लक्षद्वीप, दमन और दीव दादर और नागर हवेली पुलिस सेवा।
  • यह केंद्र शासित प्रदेश में पुलिस सेवा के लिए जिम्मेदार होती है।

Pondicherry police service

  • यह ग्रुप बी सर्विस होती है।
  • इसके अधिकारियों का सिलेक्शन यूपीएससी के एग्जाम के माध्यम से होता है तथा यह पांडिचेरी की पुलिस सर्विस होती हैं।

पांडिचेरी एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस

यह ग्रुप बी सर्विस होती है।
इसके अंतर्गत आने वाले अधिकारी पांडिचेरी की प्रशासनिक सेवा को देखते हैं।





Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.